रामपुर जिले में कोतवाली बनी भाजपा के कार्यकर्ताओं की जंग का अखाड़ा लाइव तस्वीर



रामपुर पोलिस रामपुर उत्‍तर प्रदेश
 मारपीट की लाइव तस्वीर यूपी के जिला रामपुर के कोतवाली स्वार की हैं, जहां कोतवाली के अंदर ही दो पक्षों में जमकर हंगामा और मारपीट हुई, कोतवाली में मारपीट की खबर फैलते ही वहां लोंगो की भीड़ लग गयी और मारपीट की इन तस्वीरों को लोगों ने अपने मोबाइल में कैद कर लिया और वीडियो बनाकर वायरल कर दी,, जानकारी पर पता चला कि करीब सात दिन पहले मंदिर के पुजारी को लेकर दो पक्षों में हुई नोकझोंक मारपीट में बदल गयी, और पुलिस से बेखौफ और कानून की धज्जियां उड़ाते हुए दोनों पक्षों ने कोतवाली के अंदर भी जमकर हंगामा और मारपीट की,,,लेकिन पुलिस मूकदर्शक बनी रही,,

वीओ 1 मामूली बात को लेकर भाजपा नगर अध्यक्ष व भाजपा के पूर्व सभासद आमने सामने आ गए और कोतवाली में दोनो के परिजनो में पुलिस की मौजूदगी में लात घुंसे चले जिसके चलते अफरा तफरी मच गई जिसमे दो महिलाए घायल हो गईं ।महिला पुलिस न होने के कारण पुलिस मूकदर्शक बनी रही सूचना पर सत्ता पक्ष के नेताओ का कोतवाली में जामावड़ा लग गया और समझोते के प्रयास होने लगे,,

वीओ 2 नगर के मुहल्ला चक स्वार निवासी भाजपा नगर अध्यक्ष महेन्द्र सिंह सैनी का मंदिर पर रह रहे एक बाबा से शनिवार की रात विवाद हो गया था ।जिसपर बाबा के पक्ष में भाजपा के पूर्व सभासद बाबूराम सैनी ने विरोध किया जिसपर दोनो भाजपा नेताओ में गाली गंलौंच होने  के साथ ही हाथापाई की नोवत आ गई थी ।तव भाजपा नगर अध्यक्ष ने मामले की सूचना कोतवाल राजेश कुमार को दी लेकिन पुलिस नही पहुंची जिसपर मुहल्ले के ही लोगो ने दोनो को समझाकर मामले को शांत करा दिया था ।रविवार को भाजपा नगर अध्यक्ष अपनी आढ़त पर बैठा था एक महिला कि आरोप है कि आढ़त पर सब्जी खरीदने गई तव भाजपा नगर अध्यक्ष ने छेड़छाड़ करने के साथ ही अश्लील हरकतें शुरु कर दीं,,

विरोध करने पर हाथापाई पर उतर आया जिसपर महिलाएं एकत्र हो गई और भाजपा नगर अध्यक्ष को दौड़ा लिया जिस पर भाजपा नगर अध्यक्ष ने कोतवाली पहुँच कर अपनी जान बचाई ।सूचना पर थाने में दोनो पक्षो की महिलाओ का जामावड़ा कोतवाली में लग गया पुलिस को खरी खोटी सुना दोनो के नेताओ के परिजनो में जमकर लात घुंसे चले और दोनो पक्ष की दो महिलाए घायल हो गई जिससे कोतवाली में मौजूद पुलिस कर्मीयो में अफरा तफरी मच गई ।और अपने अभिलेख समेटने लगे महिला पुलिस की तैनाती न होने के कारण पुलिस मूकदर्शक बनी रही ।भाजपा नेताओ में मारपीट की सूचना पर सत्ता पक्ष के नेताओ का जामाबड़ा लग गया और कोतवाल से मिलकर दोनो भाजपा नेताओ में समझोते कराने का अश्वासन दिया ।तव जाकर दोनो

 जानकारी के मुताबिक मारपीट और हंगामा करने वाले दोनों पक्ष सत्ताधारी पार्टी भाजपा के हैं,, इसलिए पुलिस ने भी कानून की धज्जियां उड़ाने वालो के खिलाफ कोई कार्यवाही नही की,,बही इस पूरे मामले पर अधिकारी भी कुछ बोलने को राजी नही है।

देख लो कैसा है 100 रूपये का नया नोट

 RBI नेे कियेे आदेश जारी



रिपोर्टर : राहुल मौर्य 8650668351
लोकेशन : रामपुर उत्तर प्रदेश

#jarurikhabar 
rampur up news

Previous
Next Post »