नायब तहसीलदार पदों के लिए कराई गई विभागीय परीक्षा हुई निरस्त, सामूहिक नक़ल का मामला आया सामने


बड़ी खबर भोपाल---प्रदेश में करीब 20 साल बाद पटवारी, राजस्व निरीक्षक और लिपिकों को सीधे नायब तहसीलदार बनने का मौका देने के लिए कराई गई विभागीय परीक्षा को निरस्त कर दिया गया है| पीईबी द्वारा 30 जून को यह परीक्षा आयोजित की गई, जिसमे सामूहिक नक़ल का मामला सामने आया था, वहीं उम्र के बंधन में भी कई उम्मीदवार परीक्षा से वंचित रह गए थे| परीक्षा में एक ही बुक से 80 प्रतिशत सवाल पूछे जाने की भी शिकायत हुई थी| जिसके बाद इस परीक्षा को निरस्त कर दिया गया| #jarurikhabar.com #pebscam
Previous
Next Post »